India GK

प्राचीन भारत का इतिहास क्या है परीक्षा उपयोगी महत्वपूर्ण बिंदु

इस पोस्ट में हम आपको संक्षिप्त में बताने वाले है प्राचीन भारत का इतिहास क्या है | यदि आप जानना चाहते है प्राचीन भारत से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बाते जो आपकी प्रतियोगी परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण हो सकती है तो यह पोस्ट आप पूरा पढ़े |

प्राचीन भारत का इतिहास क्या है

दोस्तों हमारे इंडिया को प्राचीन समय में अलग – अलग जगह पर कई नामो से जाना जाता था | जैसे हमारे देश के प्रशिद्ध ग्रन्थ महाकाव्य तथा पुराणों में इसे भारतवर्ष का नाम दिया गया है | यूनान में भारत  को इंडिया के नाम से जाना जाता है तथा मध्यकाल के इतिहासकारों ने इसे हिन्द / हिन्दुस्तान कहा है |

1. प्राचीन भारत इतिहास के स्त्रोत

जब भी हम किसी इतिहास के बारे में पढ़ते है तो हमारे मन में यह सवाल आता है की इतने पुराने इतिहास की जानकारी कहाँ से और कैसे प्राप्त होती है | 

दोस्तों हमारे देश के प्राचीन इतिहास की जानकारी हमे मुख्यतः चार विषय से मिलती है – जिसमे 1. धर्म ग्रन्थ जैसे – ऋग्वेद , यजुवेद , सामवेद , अथर्ववेद 2. ऐतिहासिक ग्रन्थ3. विदेशियों का विवरण तथा 4.पुरातत्व संबंधी साक्ष्य . शामिल है | 

2. प्रागैतिहासिक काल

प्राचीन भारत इतिहास के प्रागैतिहासिक काल में हमे होमोसेपियंस , आग की खोज , पहिये तथा औजारों का उपयोग तथा कृषि की खोज संबंधी जैसी जानकरी पढने को मिलती है | 

3. सिन्धु सभ्यता –

सिन्धु सभ्यता में हमे सिन्धु सभ्यता के खोज कर्ता रायबहादुर दयाराम साहनी के बारे में जानकरी पढने को मिलती है साथ ही इस सभ्यता में होने वाली कृषि की प्रमुख फसलों तथा विदेशी व्यापार के बारे में आदि जानकारी प्राप्त होती है | 

4. वैदिक सभ्यता
5. महाजनपदों का उदय 
6. जैन धर्म 
7. बौद्ध धर्म
8. शैव धर्म 
9. वैष्णव धर्म 
10. इस्लाम धर्म 
11. ईसाई धर्म 
12. पारसी धर्म 
13. मगध राज्य का उत्कर्ष
14. सिकंदर 
15. मौर्य साम्राज्य 
16. ब्राह्मण साम्राज्य 
17. भारत के यवन राज्य 
18. शक 
19. कुषाण 
20. गुप्त साम्रज्य 
21. पुष्यभूति वंश 
22. दक्षिण भारत के प्रमुख राजवंश 
23. सीमावर्ती राजवंशों का अभ्युद 24. राजपूत राजवंशो की उत्पति

तो लगभग आपको पता लग गया है की प्राचीन भारत के इतिहास में हम किन – किन विषय में पढ़ते है | यदि यह जानकरी आपको पसंद आती है तो अपने साथियों के साथ जरुर शेयर करे |  

हमारी नई पोस्ट की जानकारी के लिए हमसे टेलीग्राम पर जुड़े

Join Telegram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *