all post Educational

हिंदी व्याकरण कक्षा 8 वीं| Hindi Grammar Class 8 th pdf Download

डाउनलोड करें कक्षा 8 वीं के हिंदी ग्रामर को | यहाँ इस पोस्ट में आपको Class 8th Hindi Grammar के सभी प्रश्न पढने को मिल जाएँगे | Hindi Grammar Class 8 pdf Download करने के लिए आप निचे दिए गये डाउनलोड लिंक पर क्लिक करें |

Hindi Grammar Class 8th Important Questions And Answers

Hindi Grammar Class 8th

प्रश्न – 1 गद्य की प्रमुख विधाएं कितनी है?
उत्तर 1. गद्य की प्रमुख विधाएं निम्न है निबंध, कहानी, एकांकी ,नाटक ,उपन्यास|

प्रश्न -2. कहानी किसे कहते हैं ?
उत्तर 2. कहानी मैं मानव जीवन के किसी एक पक्ष का मनोहारी चित्रण प्रदर्शित किया जाता है एवं कहानी एक ऐसी रचना है जिनमें जीवन के किसी एक अंक या मनोभाव को प्रदर्शित करना कहानी कहलाता है|

प्रश्न -3. कहानी के कितने तत्व होते हैं ?
उत्तर 3. कहानी की 6 तत्व होते हैं| 1. कथावस्तु अथवा कथानक 2. कथोपकथन संवाद 3. पात्र अथवा चरित्र चित्रण 4. देशकाल और वातावरण 5. भाषा शैली 6. उद्देश्य|

प्रश्न -4. एकांकी क्या है ?
एकांकी एक अंक का दृश्य काव्य विधा है इसमें किसी एक कथा या घटना को सीमित पात्रों के माध्यम से प्रस्तुत किया जाता है|

प्रश्न -5. एकांकी में कितने तत्व होते हैं?
उत्तर 5. एकांकी में निम्न तत्व होते हैं कथावस्तु ,कथोपकथन या संवाद , पात्र या चरित्र चित्रण ,देशकाल और वातावरण ,भाषा शैली रंगमंचीयता ।

प्रश्न – 6. नाटक क्या है ?
उत्तर 6. नाटक एक दृश्य काव्य है जिसे हम पढ़ कर या सुनकर अनुमति नहीं कर पाते हैं बल्कि उस अभिनय को देखकर सुनकर अपनी भावना में उतार कर उसे महसूस करते हैं उसे नाटक कहा जाता है|

प्रश्न – 7. नाटक के कितने तत्व माने गए हैं ?
उत्तर 7. नाटक के 6 तत्व माने गए हैं ।कथावस्तु , चरित्र चित्रण, उद्देश , संवाद ,देशकाल गीतात्मक ।

प्रश्न -8. संधि किसे कहते हैं ?
उत्तर 8. दो वर्णों के मेल से उत्पन्न विकार लय शब्द को संधि कहते हैं|

प्रश्न – 9. संधि कितने प्रकार की होती है नाम लिखिए?
उत्तर 9. संदीप तीन प्रकार की होती है। 1. स्वर संधि 2. व्यंजन संधि 3. व्यजंन संधि

प्रश्न – 10. स्वर संधि किसे कहते हैं और यह कितने प्रकार की होती है ?
उत्तर 10. दो स्वरों के मेल से जो परिवर्तन होता है उसे स्वर संधि कहते हैं । संधि पांच प्रकार की होती है । दीर्घ संधि , गुण संधि ,वृद्धि संधि , यण् संधि , अयादि संधि ।

यह भी पढ़ें –

प्रश्न -11. दीर्घ संधि किसे कहते हैं ?
उतर 11. जब दो हस्व ( मूल )या दीर्घ स्वर आपस में मिलकर विकार अथवा परिवर्तन करते हैं तो उस परिवर्तन में उनका दीर्घ स्वरूप उत्पन्न होता है उन्हें दीघ का संधि कहते हैं उदाहरण :- मतानुसार =मत +अनुसार भोजनालय = भोजन + आलय

प्रश्न -12. व्यंजन संधि किसे कहते हैं ?
उत्तर 12. व्यंजन संधि :- व्यंजन वर्ण के बाद स्वर व्यंजन आने से व्यंजन में जो परिवर्तन होता है उसे व्यंजन संधि कहते हैं । उदाहरण :- जगत +ईश = जगदीश अभि + सेक = अभिषेक

प्रश्न -13. विसर्ग संधि किसे कहते हैं ?
उत्तर 13. विसर्ग के पश्चात किसी स्वर यह व्यंजन के आने पर विसर्ग में जो परिवर्तन होता है उसे विसर्ग संधि कहते हैं उदाहरण :- मनोविनोद = मन: + विनोद

प्रश्न -14. समास किसे कहते हैं ?
उतर 14. दो या दो से अधिक शब्दों के मेल से नवीन शब्द बनाने की प्रक्रिया ही समास है| उदाहरण :- (1) भाई -बहन =भाई और बहन (2) माता -पिता =माता और पिता (3) राम -लक्ष्मण = राम और लक्ष्मण

प्रश्न -15. समास कितने प्रकार के होते हैं नाम लिखिए?
उतर 15. समास के प्रकार के होते हैं| 1. अव्ययीभाव समास 2. तत्पुरुष समास 3. कर्मधारय समास 4. द्विगु समास 5. द्वंद समास 6. बहुब्रीहि समास

प्रश्न -16. तत्सम शब्द का अर्थ क्या है ?
उत्तर 16. तत्सम शब्द का अर्थ है उसके समान अर्थात जो शब्द संस्कृत से ज्यों के त्यों ही हिंदी में प्रयुक्त होते हैं उन्हें तत्सम शब्द कहते हैं उदाहरण :- विद्या ,आत्मा ,शीघ्र सुंदर , पुस्तक इत्यादि ।

प्रश्न -17. तद्भव शब्द का अर्थ क्या है ?
उतर 17. तद्भव शब्द का अर्थ है उससे उत्पन्न अर्थात जो शब्द संस्कृत पालि प्राकृत अपभ्रंश से होते हुए समय परिवर्तन के साथ हिंदी में प्रचलित है वह तद्भव शब्द कहे जाते हैं उदाहरण :- सप्त से सात ,सर्प से साँप, ग्राम से गाँव, कंकण से कंगन

प्रश्न -18. पर्यायवाची शब्द की परिभाषा लिखिए ?
उतर 18. पर्यायवाची शब्द :- वे शब्द समूह जो एक ही अर्थ को प्रकट करते हैं पर्यायवाची शब्द कहलाते हैं तात्पर्य यह है कि हमारी हिंदी भाषा इतनी समृद्ध शाली है कि उसमें एक ही अर्थ को प्रकट करने के लिए अनेक शब्द है ।
दूसरो शब्दों में हिंदी भाषा का शब्द भंडार विपुल है अंश = भाग ,हिस्सा , टुकड़ा ,अंग अवयय अमृत =सुधा, सोम, अमिय

प्रश्न -19. वाक्यांश (एक शब्द समूह) किसे कहते हैं ?
उत्तर 19. Updating Soon….

प्रश्न -20. मुहावरा किसे कहते हैं ?(मुहावरे की परिभाषा लिखिए )
उत्तर 20 – Updating Soon….

यह भी पढ़ें –

प्रश्न -21. लोकोक्ति की परिभाषा दीजिए?
उत्तर 21. लोकोक्ति उन वाक्यों या वाक्यांशों को कहते हैं ,जो किसी कहानी अथवा किसी चिर सत्य घटना के आधार पर बनी होती है। इनमें जीवन के यथार्थ और विस्तृत अनुभव का समावेश होता है ।लोक + उक्ति =जनमानस में प्रचलित उक्ति को लोकोक्ति कहते हैं जेसे :- चमड़ी जाए पर दमड़ी ना जाए कहाँ राजा भोज कहां गंगू तेली

प्रश्न -22. संज्ञा की परिभाषा लिखिए?
उत्तर 22. किसी व्यक्ति वस्तु या स्थान या भाव के नाम को संज्ञा कहते हैं जैसे :- महेश ,कुर्सी ,जग ,बकरी आदी |

प्रश्न -23. संज्ञा के कितने भेद होते हैं?
उत्तर 23. संज्ञा के पांच भेद है व्यक्तिवाचक ,जातिवाचक, भाववाचक ,समुदाय वाचक ,द्रव्यवाचक

प्रश्न -24. व्यक्तिवाचक संज्ञा की परिभाषा लिखिए?
उतर 24. जिस शब्द से किसी विशेष व्यक्ति स्थान अथवा वस्तु का बोध हो, वह व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाती है ! जेसे :- महेश कोटा में चंबल नदी के पास झोपड़ी में रहता है वाक्य में “महेश “एक विशेष मनुष्य का नाम है इसी प्रकार “कोटा “किसी एक ही नगर का नाम है तथा “चंबल “किसी विशेष नदी का नाम है|

प्रश्न -25. जातिवाचक संज्ञा की परिभाषा लिखिए?
उतर 25. जिस संज्ञा शब्द से उसकी संपूर्ण जाति का बोध हो वह जातिवाचक संज्ञा कहलाती है
जैसे :- (1) मनुष्य सबसे बुद्धिमान माना जाता है (2) हाथी की एक लंबी सूंड होती है इन उदाहरणों में मनुष्य शब्द से संसार के सभी मनुष्य का बोध होता है|

प्रश्न -26. भाव वाचक संज्ञा की परिभाषा लिखिए?
उतर 26. जिस संज्ञा शब्द से प्रदार्थ की अवस्था गुण दोष ,धर्म आदि का बोध हो ,उसे भाव वाचक संज्ञा कहते हैं जैसे:- मित्रता ,बुद्धिमत्ता ,ऊंचाई इत्यादि|

प्रश्न -27. समुदाय (समूहवाचक) संज्ञा की परिभाषा लिखिए?

उतर 27. जिन संज्ञा शब्दों से युक्तियों वस्तुओं आदि के समूह का बोध हो उन्हें समुदाय वाचक संज्ञा कहते हैं ! जेसे:- परिवार, कक्षा ,समिति ,दरबार, परिषद इत्यादि ! उदाहरण चौपाल में आज सभा हो रही है|

प्रश्न -28. द्रव्यवाचक संज्ञा की परिभाषा लिखिए?
उतर 28. जिन संज्ञा शब्दों से किसी धातु द्रव्य आदि प्रदाथो का बोध हो उन्हें द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं जैसे :- तेल ,चांदी ,सोना ,चावल , पीतल आदि ! उदाहरण यह आभूषण सोने का है|

प्रश्न -29. सर्वनाम की परिभाषा दीजिए?
उतर 29. सर्वनाम शब्द का अर्थ -सभी का नाम! वाक्य में संध्या की पुनरुक्ति से बचने के लिए संज्ञा के स्थान पर प्रयोग किए जाने वाले शब्दों को सर्वनाम कहते हैं । अर्थात संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले प्रयुक्त होने वाले शब्द सर्वनाम कहलाते हैं जैसे :- चिकित्सक कोलकाता गया है ।

प्रश्न -30. सर्वनाम कितने भेद होते हैं उनके नाम लिखिए?
उतर 30. सर्वनाम के 6 भेद है (1) पुरुषवाचक सर्वनाम (2)निश्चयवाचक सर्वनाम (3) अनिश्चयवाचक सर्वनाम (4) संबंधवाचक सर्वनाम (5) प्रश्नवाचक सर्वनाम (6) निजवाचक सर्वनाम

यह भी पढ़ें –

हिंदी व्याकरण कक्षा 8 वीं

प्रश्न -31. विशेषण किसे कहते हैं ?
उतर 31. संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्दों की विशेषता (गुण ,दोष ,संख्या, परिमाण आदि ) बताने वाले शब्द विशेषण कहलाते हैं| जैसे :- बड़ा, काला, लंबा, दयालु, भारी, सुंदर, कायर, टेढ़ा- मेढ़ा आदि|

प्रश्न -32. विशेषण कितने प्रकार के होते हैं उनके नाम लिखिए?
उतर 32. विशेषण चार प्रकार के होते हैं (1) गुणवाचक विशेषण (2) परिमाणवाचक विशेषण (3) संख्यावाचक विशेषण (4) संकेतार्थक सर्वनाम वाचक विशेषण

प्रश्न -33. क्रिया की परिभाषा दीजिए ?
उतर 33. जैसे शब्द अथवा शब्द समूह के द्वारा किसी कार्य की होने अथवा करने का बोध हो, वह क्रिया कहलाती है जैसे:- अभिमन्यु दूध पी रहा है ! मेरे लिए दूध लाओ |

प्रश्न -34. अव्ययीभाव समास की परिभाषा लिखिए ?
उतर 34. जिस समाज में पहला पद अव्यय होता है वह अव्ययीभाव समास कहा जाता है ! उदाहरण :- यथाशक्ति –शक्ति के अनुसार प्रतिदिन —हर दिन (दिन -दिन) प्रत्याशा –आशा के बदले आशा चलाचली –चलने के बाद चलना

प्रश्न -35. तत्पुरुष समास की परिभाषा लिखिए ?
उतर 35. जिस समास का दूसरा पद प्रधान होता है उसे तत्व पुरुष समास कहते हैं | जेसे :- सर्वज्ञ –सर्व को जानने वाला पक्षधर —पक्ष को धारण करने वाला |

प्रश्न -36. कर्मधारय समास की परिभाषा लिखिए ?
उतर 36. कर्मधारय समास का दूसरा पद प्रधान होता है इसमें पहला पद विशेषण ओर दूसरा पद विशेष्य होता है अथवा पहला पद उपमेय में और दूसरा पद उपमान होता है । जैसे :- नीलकमल ,चंद्रमुखी

प्रश्न -37. द्वंद समास की परिभाषा लिखकर ?
उतर:- 37.जिस समास के दोनों पद प्रधान होते हैं वह द्वंद समास कहा जाता है इस समाज में “या ,व, और “के द्वारा दो या दो से अधिक शब्दों को जोड़ा जाता है जेसे :- माता -पिता =माता और पिता गौरीशंकर = गौरी और शंकर

प्रश्न -38. द्बिगु समास की परिभाषा लिखिए ?
उतर 38. इसका पहला पद संख्यावाचक( गणना- बोधक )होता है व दूसरा पद प्रधान होता है एवं समूहवाची होता है !इस समास से समूह का बोध होता है उदाहरण :- पंचवटी = पाँच वृक्षों का समूह सप्ताह = सात दिनों का समूह नीलकंठ =नीला है कंठ जिसका

प्रश्न -39. बहुब्रीही समास की परिभाषा दीजिए?
उतर 39. इस समास में दोनों ही पद गोण होते हैं उनमें कोई भी पद प्रदान नहीं होता है किंतु दोनों पदों के अर्थ से तीसरा पद प्रधान होता है उदाहरण :- पितांबर –पिता है अंबर जिसका (विष्णु) घनश्याम –घन के समान श्याम (कष्ण) लंबोदर –लंबे उदर वाला (गणेश )

प्रश्न -40. उपसर्ग किसे कहते हैं ?
उतर 40. वे शब्दांश जो किसी मूल शब्द के पूर्व में लगकर नए शब्द का निर्माण करते हैं अर्थात नए अर्थ का बोध कराते हैं ,उन्हें उपसर्ग कहते हैं । जेसे :- आहार (भोजन ) ,उपहार (भेंट) , प्रहार ( चोट) परिहार (त्यागना) अतः “हार ” शब्द के साथ प्रयुक्त क्रमशः आ ,अप , परी ,प्रति ,वि ,सम् उत् शब्दांश उपसर्ग की श्रेणी में आते हैं|

यह भी पढ़ें –

प्रश्न -41. उपसर्ग कितने प्रकार की होते हैं ?
उतर 41. हिंदी में तीन प्रकार के उपसर्ग प्रचलित है । (1)संस्कृत उपसर्ग (2) हिंदी उपसर्ग (3) अरबी फारसी (उर्दू ) उपसर्ग

प्रश्न -42. प्रत्यय किसे कहते हैं ?
उतर 42. वे शब्दांश जो किसी शब्द के अंत में लगकर उस शब्द के अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं अर्थात नए अर्थ का बोध कराते हैं उन्हें प्रत्यय कहते हैं । जैसे :- समाज + इक = सामाजिक सुगंध + इत = सुगंधित

प्रश्न -43. प्रत्यय कितने प्रकार के होते हैं नाम लिखिए?
उतर 43. प्रत्यय दो प्रकार के होते है (1) कृत (कदंत) प्रत्यय (2) तध्दित प्रत्यय

प्रश्न -44. शब्द किसे कहते हैं ?
उतर 44. दो या दो से अधिक वर्णों के सार्थक एवं स्वतंत्र समूह को शब्द कहते हैं । शब्दों का वर्गीकरण चार आधार पर किया जाता है । (1) उत्पत्ति का स्रोत के आधार पर (2) अर्थ के आधार पर (3) रचना या बनावट के आधार पर (4) प्रयोग के आधार पर

प्रश्न -45. हिंदी भाषा में शब्द कितने प्रकार के होते हैं ?
उतर:- 45. हिंदी भाषा में व्युत्पत्ति की दृष्टि से पांच प्रकार के शब्द है । तत्सम ,तद्भव ,देशज विदेशी ,संकर शब्द

प्रश्न -46. तत्सम शब्द किसे कहते हैं ?
उतर 46. तत्सम शब्द जो संस्कृत शब्द अपना रूप बदले बिना ही हिंदी में प्रयुक्त होते हैं वे तत्सम शब्द कहलाते हैं जेसे:- धैर्य ,स्नेह ,हस्त ,योवन ,वंश ,आम्र आदि

प्रश्न -47. तद्भव शब्द किसे कहते हैं ?
उतर 47. जिन शब्दों का मुल तो संस्कृत में है किंतु मध्ययुगीन भाषाओं के परिवर्तित स्वरूप में प्रयुक्त होते हुए हिंदी में भी प्रयुक्त होने लगे हैं वे तद्भव शब्द कहलाते हैं ! अर्थात संस्कृत के वे विकृत शब्द जो प्राकृत भाषा में प्रयुक्त होते हुए हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी तक पहुंच गए हैं जैसे :- नेह ,हाथ ,जोबन ,सिंगार, बाँस ,आम आदि

प्रश्न -48. कारक किसे कहते हैं ?
उतर 48. क्रिया के कर्ता को कारक कहते हैं !जिन शब्दों का क्रिया के साथ प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष संबंध होता है उन्हें कारक कहा जाता है|

प्रश्न -49. लिंक का अर्थ क्या है एवं कितने प्रकार के होते हैं?
उतर 49. हिंदी में कारक आठ प्रकार के होते हैं कर्ता ,कर्म ,करण ,संप्रदान ,अपादान, संबंध , अधिकरण संबोधन

प्रश्न -50. पुल्लिंग शब्द किसे कहते हैं ?
उतर 50. लिंग शब्द का अर्थ है निशान अर्थात शब्द के जिस रुप से यह पता चले कि संज्ञा शब्द पुरुष जाति का है या स्त्री जाति का उसे लिंग कहते हैं जैसे :- मर्द -औरत , घोड़ा –घोड , मोर –मोरनी , स्त्री –पुरुष हिंदी में लिंग दो प्रकार के होते हैं — स्त्रीलिंग ओर पुल्लिंग |

यह भी पढ़ें –

प्रश्न -51. स्त्रीलिंग शब्द किसे कहते हैं ?
उतर 51. वे शब्द जो पुरुष जाति का बोध कराते हैं पुल्लिंग शब्द कहलाते हैं जैसे :-बेल ,मोर , राम आदि |

प्रश्न -52. वचन का अर्थ क्या है ?
उतर 52. जो शब्द स्त्री जाति का बोध कराते हैं स्त्रीलिंग शब्द कहलाते हैं जैसे :- बालिका, खिड़की, स्त्री ,टोली ,समिति राशि आदि |

प्रश्न -53. हिंदी में वचन कितने प्रकार के होते हैं ?
उतर 53. एक या एक से अधिक वस्तुओं का बोध कराने वाले शब्दों को वचन कहते हैं|

प्रश्न -54. काल किसे कहते हैं ?
उतर 54. हिंदी में वचन दो प्रकार के होते हैं एकवचन ,बहुवचन एकवचन :- जिस शब्द से एक वस्तु का बोध हो उसे एकवचन कहते हैं यथा :-लड़का, घोड़ा ,नदी ,प्रभु आदि ! बहुवचन :- जिस शब्द से एक से अधिक वस्तुओं का बोध हो उसे बहुवचन कहते हैं जैसे :- लड़के , नदियां , पुस्तके आदि |

प्रश्न -55. काल कितने प्रकार की होते हैं ?
उतर 55. क्रिया के जिस रुप से क्रिया होने का समय तथा उसकी पुणत्ता या अपुणता का बोध हो उसे काल कहते हैं काल तीन प्रकार के होते हैं वर्तमान काल ,भूतकाल ,भविष्य काल |

प्रश्न -56. वर्तमान काल किसे कहते है ?
उतर 56. क्रिया के उस रुप को वर्तमान काल कहते हैं जिसमें क्रिया के व्यापार का वर्तमान समय में होना पाया जाता है पहचान :- ता है ,ती है , ते है , रहा है ,रही है, रहे हैं आदि|

प्रश्न -57. भूतकाल का अर्थ क्या होता है ?
उतर 57. क्रिया के जिस रुप में भूतकाल बीते हुए समय में क्रिया का होना प्रकट हो उसे भूतकाल कहते हैं पहचान :- था, थी ,थे ,रहा था ,रही थी, रहे थे |

प्रश्न -58. भविष्य काल का अर्थ क्या होता है ?
उतर 58. क्रिया के जिस रुप से भविष्य (आने वाले समय )में क्रिया का होना प्रकट हो उसे भविष्य काल कहते हैं पहचान :- गा ,गी,गे (अभिमन्यु गाड़ी चलाएगा) |

प्रश्न -59. विलोम शब्द की परिभाषा लिखिए ?
उतर 59. किसी शब्द के मूल अर्थ के विपरीत अर्थ को विलोम शब्द कहते हैं जैसे:- दिन-रात , सुख-दुख , बड़ा -छोटा |

प्रश्न -60. विलोम शब्द कितने प्रकार के होते हैं ?
उतर 60. विलोम शब्द चार प्रकार से बनाए जाते हैं (1) उपसर्ग लगाकर (2) उपसर्ग बदलकर (3) लिंग बदलकर (4) पूर्ण शब्द बदलकर

इन्हें भी पढ़ें –

Hindi Grammar Class 8 th – उम्मीद करते है आपको हमारा यह प्रयास पसंद आया होगा | कृपया इस पोस्ट को अपने साथियों के साथ भी जरुर शेयर करें | और हमारे नये पोस्ट की जानकारी के लिए कृपया हमारे सोशल मीडिया ग्रुप ज्वाइन करें |

—- # Hindi Grammar Class 8 th , # Kaksha 8vin Hindi Grammar, # Class 8th Hindi Grammar Notes, # Kaksha 8 Grammar, # कक्षा 8 वीं हिंदी ग्रामर , # हिंदी ग्रामर , # कक्षा 8 की ग्रामर , # कक्षा ८विन हिंदी व्याकरण , # Class 8th vyakaran, kaksha 8 ki vyakaran —-

*******************

Title – हिंदी व्याकरण कक्षा 8 वीं | Hindi Grammar Class 8 th
Last Update – 25 / jan / 2021
******************

******** -------- *******

हमारी नई पोस्ट की जानकारी के लिए हमसे टेलीग्राम पर जुड़े

Join Telegram

Admin- Hema Soni
हेल्लो फ्रेंड्स मैं हेमा सोनी स्वागत करती हूँ आपका यूनिट बुक्स में | इस ब्लॉग में हम आपको विभिन्न विषयों में सामान्य ज्ञान उपलब्ध कराते है - कक्षा 10वीं , 11 वीं और 12वीं के अतिरिक्त , GK , GS, Reasoning , Computer , Current Affairs आदि |
https://www.unitbooks.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *